Saturday, July 13, 2024
Home उत्तराखंड विरासत में गढ़वाली, कुमांऊनी एवं जौनसारी लोकनृत्यों की रही धूम

विरासत में गढ़वाली, कुमांऊनी एवं जौनसारी लोकनृत्यों की रही धूम

देहरादून। विरासत आर्ट एंड हेरीटेज फेस्टिवल के 12वें दिन की शुरुआत ’विरासत साधना’ कार्यक्रम के साथ हुआ। ’विरासत साधना’ कार्यक्रम के अंतर्गत ’विरासत साधना ट्रेजर हंट’ का आयोजन किया गया। जिसमे चार विद्यालय(दून इंटरनेशनल, हिल फाउंडेशन, के वी आई टी बी पी, ओग्रूव) के कुल 40 बच्चो ने प्रतिभाग लिया। ट्रेजर हंट के लिए 15 टीम तयार की गई , जिसमे 3 से 6 बच्चे हर एक टीम में शामिल किए गए। इस खेल में बच्चो को क्लूज की चिट्ठी ढूंढकर संचालक को सारी चिट्ठियां क्रमानुसार देनी थी । इसमें बच्चो को 6 क्लूज ढूंढने थे जो अलग अलग स्टॉल्स में छुपाए गए थे। पहला क्लू टर्न लेफ्ट टुवड्र्स स्नैक , दूसरा रेड एंड व्हाइट पेंटिंग ,तीसरा यूं नीड टू पुट ऑन योर हेड फॉर गुड नाईट स्लीप, चैथा दिस इस कलरफुल एंड वी यूज इट एवरी दिवाली , पांचवा प्रिंटिंग तकनीक ऑफ कच्छ आखरी फाइंड द पॉटर था। जिसे सबसे पहले दून इंटरनेशनल ग्रुप 1 के बच्चे (अनुष्का सिंह, अनुष्का रावत , श्रेया नौटियाल )ने ढूंढा और पहला स्थान हासिल किया। उसके बाद दूसरा स्थान भी दून इंटरनेशनल के ग्रुप 3 के (क्षितिज मंगल , खुशी कैंतुरा , अश्रेया चंद,अदम्य गुप्ता ,प्रेस्था मेहरा ) के नाम हुआ। ये खेल सरगम, शुषांशु एवं सना द्वारा संचालित एवम तैयार किया गया।
सांस्कृतिक संध्या कार्यक्रम का शुभारंभ दीप प्रज्वलन के साथ हुआ एवं ब्रम्ह कमल सांस्कृतिक कला संगम देहरादून के मनमोहक लोकनृत्य की प्रस्तुतियां हुई जिसकी शुरुवात उन्होंने गणेश की आराधना (दैन्या होया खोली का गणेशा) से की फिर उसके बाद उन्होंने नंदा देवी का सुंदर प्रदर्शन किया। अगली प्रस्तुति में उन्होंने गढ़वाल के थडिया चोला की दी, उसके बाद उन्होंने कुमाऊं के छपेली का लोकनृत्य का प्रदर्शन किया। जोनसार का हारूल और तांदी देखने का भी दर्शकों को अवसर मिला। अंत में उन्होंने तीनों लोकनृत्य गढ़वाली, कुमाऊं एवं जौनसार’ का विलय कर प्रस्तुति का समापन किया। छपेली उत्तराखंड में किया जाने वाला एक पारंपरिक नृत्य है, यह नृत्य रूप स्थानीय उत्तराखंड जनजाति की संस्कृति पर आधारित है क्योंकि प्रेमी आमतौर पर इस नृत्य का प्रदर्शन करते हैं। स्थानीय जनजाति के रीति-रिवाजों और परंपराओं के अनुसार, किंवदंती के अनुसार, जो जोड़े एक साथ छपेली नृत्य करते हैं, वे हाथ में रंग-बिरंगे कपड़ों और वाद्ययंत्रों के साथ नृत्य करते हुए अपने रिश्ते को मजबूत करते हैं।

RELATED ARTICLES

कुमाऊं आयुक्त ने सूखा ताल का स्थलीय निरीक्षण किया, अधिकारियों को दिए निर्देश

नैनीताल। ’कुमाऊं आयुक्त दीपक रावत ने सूखाताल का स्थलीय निरीक्षण किया। इस दौरान प्रबंधक निदेशक केएमवीएन, सचिव प्राधिकरण, उपजिलाधिकारी प्रमोद कुमार, नायब तहसीलदार नैनीताल,...

पौधों की सुरक्षा एवं संरक्षण के लिए जनमानस का सहयोग प्राप्त किया जाएः डीएम

देहरादून। जनपद में हरेला पर्व को वृहद्धस्तर पर मनाये जाने तथा जनसहभागिता के साथ पौधारोपण एवं वृक्षों के संरक्षण के सम्बन्ध जिलाधिकारी सोनिका ने...

संविदा खेल प्रशिक्षकों के मानदेय में वृद्धि के साथ ही चयन प्रक्रिया का हुआ निर्धारण

देहरादून। खेल विभाग के अन्तर्गत विभिन्न खेल विधाओं में खिलाड़ियों को प्रशिक्षण देने हेतु संविदा खेल प्रशिक्षकों के मानदेय में वृद्धि एवं चयन प्रक्रिया...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

कुमाऊं आयुक्त ने सूखा ताल का स्थलीय निरीक्षण किया, अधिकारियों को दिए निर्देश

नैनीताल। ’कुमाऊं आयुक्त दीपक रावत ने सूखाताल का स्थलीय निरीक्षण किया। इस दौरान प्रबंधक निदेशक केएमवीएन, सचिव प्राधिकरण, उपजिलाधिकारी प्रमोद कुमार, नायब तहसीलदार नैनीताल,...

पौधों की सुरक्षा एवं संरक्षण के लिए जनमानस का सहयोग प्राप्त किया जाएः डीएम

देहरादून। जनपद में हरेला पर्व को वृहद्धस्तर पर मनाये जाने तथा जनसहभागिता के साथ पौधारोपण एवं वृक्षों के संरक्षण के सम्बन्ध जिलाधिकारी सोनिका ने...

संविदा खेल प्रशिक्षकों के मानदेय में वृद्धि के साथ ही चयन प्रक्रिया का हुआ निर्धारण

देहरादून। खेल विभाग के अन्तर्गत विभिन्न खेल विधाओं में खिलाड़ियों को प्रशिक्षण देने हेतु संविदा खेल प्रशिक्षकों के मानदेय में वृद्धि एवं चयन प्रक्रिया...

मुख्य सचिव राधा रतूड़ी की अध्यक्षता में हुई परिवार पहचान पत्र की ईएफसी

देहरादून। मुख्य सचिव राधा रतूडी ने परिवार पहचान पत्र से सम्बन्धित व्यय वित्त समिति (ईएफसी) की बैठक में इस प्रोजेक्ट के बजट को अनुमोदन...

Recent Comments