Wednesday, April 17, 2024
Home उत्तराखंड एचडीएफसी बैंक ने तिमाही वित्तीय परिणाम (इंडियन जीएएपी) घोषित किए

एचडीएफसी बैंक ने तिमाही वित्तीय परिणाम (इंडियन जीएएपी) घोषित किए

देहरादून। एचडीएफसी बैंक लिमिटेड के निदेशक मंडल ने शनिवार को मुंबई में आयोजित अपनी बैठक में 30 जून, 2022 को समाप्त तिमाही के लिए बैंक (भारतीय जीएएपी) परिणामों को मंजूरी दी। बैंक के सांविधिक लेखा परीक्षकों द्वारा खातों को सीमित समीक्षा के अधीन किया गया है। लाभ और हानि खाताः 30 जून, 2022 को समाप्त तिमाही- 30 जून, 2022 को समाप्त तिमाही के लिए बैंक का मुख्य शुद्ध राजस्व (व्यापार और मार्क टू मार्केट नुकसान को छोड़कर), 19.8 प्रतिशत बढ़कर 27,181.4 करोड़ हो गया, जो 30 जून, 2021 को समाप्त तिमाही के लिए 22,696.5 करोड़ था। कुल शुद्ध राजस्व (शुद्ध) 30 जून, 2022 को समाप्त तिमाही के लिए ब्याज आय और अन्य आय) 25,869.6 करोड़ थी। 30 जून, 2022 को समाप्त तिमाही के लिए शुद्ध ब्याज आय (ब्याज अर्जित कम ब्याज) 30 जून, 2021 को समाप्त तिमाही के लिए 17,009.0 करोड़ से 14.5 प्रतिशत बढ़कर 19,481.4 करोड़ हो गया, जो कि 22.5 प्रतिशत की अग्रिम वृद्धि से प्रेरित था। 19.2ः और कुल बैलेंस शीट में 20.3 प्रतिशत की वृद्धि। कोर नेट इंटरेस्ट मार्जिन कुल एसेट पर 4.0 प्रतिशत और इंटरेस्ट अर्निंग एसेट्स पर आधारित 4.2 प्रतिशत था। हमने तिमाही के दौरान 2.6 मिलियन की मजबूत गति से नए दायित्व संबंध जोड़ना जारी रखा।
30 जून, 2022 को समाप्त तिमाही के लिए अन्य आय के चार घटक 5,360.4 करोड़ (पिछले वर्ष की इसी तिमाही में 3,885.4 करोड़), विदेशी मुद्रा और डेरिवेटिव राजस्व 1,259.3 करोड़ (1,198.7 करोड़ में) की फीस और कमीशन थे। पिछले वर्ष की इसी तिमाही), 1311.7 करोड़ (पिछले वर्ष की इसी तिमाही में 601.0 करोड़ का लाभ) के निवेश की बिक्री/पुनर्मूल्यांकन पर हानि और 1,080.2 करोड़ की वसूली और लाभांश सहित विविध आय (पिछले वर्ष की इसी तिमाही में 603.5 करोड़)। 30 जून, 2021 को समाप्त तिमाही में ट्रेडिंग और मार्क टू मार्केट घाटे को छोड़कर अन्य आय में 35.4 प्रतिशत की वृद्धि हुई। हमने पिछले बारह महीनों में 725 शाखाओं और 29,038 कर्मचारियों और तिमाही के दौरान 36 शाखाओं और 10,932 कर्मचारियों को जोड़ा। यह, और तिमाही के दौरान किए गए अन्य निवेश, बैंक को विकास के अवसरों को भुनाने की स्थिति में लाएंगे। 30 जून, 2022 को समाप्त तिमाही के लिए परिचालन व्यय 10,501.8 करोड़ था, जो पिछले वर्ष की इसी तिमाही के दौरान 8,160.4 करोड़ से 28.7 प्रतिशत अधिक था। तिमाही के लिए व्यापार और मार्क टू मार्केट घाटे को छोड़कर लागत-से-आय अनुपात 38.6 प्रतिशत था। पूर्व-प्रावधान परिचालन लाभ (पीपीओपी) 15,367.8 करोड़ था। पीपीओपी, ट्रेडिंग और मार्क टू मार्केट घाटे को छोड़कर, 30 जून, 2021 को समाप्त तिमाही में 14.7 प्रतिशत की वृद्धि हुई।

RELATED ARTICLES

एमडीडीए उपाध्यक्ष ने ली प्राधिकरण की समीक्षा बैठक, दिए कई महत्वपूर्ण निर्देश

देहरादून। एमडीडीए उपाध्यक्ष बंशीधर तिवारी की अध्यक्षता में सोमवार को प्राधिकरण सभागार में एक समीक्षा बैठक आयोजित की गई, जिसमें उपाध्यक्ष श्री तिवारी द्वारा...

तीन साल की बच्ची चोरी, सीसीटीवी फुटेज आया सामने

हरिद्वार। हरकी पैड़ी से लापता संभल (यूपी) की तीन वर्षीय मासूम के मामले में नया मोड़ आ गया है। सीसीटीवी फुटेज में सामने आया...

अंतिम दौर के रेंडमाइजेशन की प्रक्रिया संपन्न

उत्तरकाशी। लोक सभा चुनाव के लिए जिले में मतदान केन्द्रों पर कार्मिकों तथा माईक्रो ऑब्जर्वर्स की तैनाती हेतु अंतिम दौर के रेंडमाईजेशन की प्रक्रिया...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

एमडीडीए उपाध्यक्ष ने ली प्राधिकरण की समीक्षा बैठक, दिए कई महत्वपूर्ण निर्देश

देहरादून। एमडीडीए उपाध्यक्ष बंशीधर तिवारी की अध्यक्षता में सोमवार को प्राधिकरण सभागार में एक समीक्षा बैठक आयोजित की गई, जिसमें उपाध्यक्ष श्री तिवारी द्वारा...

तीन साल की बच्ची चोरी, सीसीटीवी फुटेज आया सामने

हरिद्वार। हरकी पैड़ी से लापता संभल (यूपी) की तीन वर्षीय मासूम के मामले में नया मोड़ आ गया है। सीसीटीवी फुटेज में सामने आया...

अंतिम दौर के रेंडमाइजेशन की प्रक्रिया संपन्न

उत्तरकाशी। लोक सभा चुनाव के लिए जिले में मतदान केन्द्रों पर कार्मिकों तथा माईक्रो ऑब्जर्वर्स की तैनाती हेतु अंतिम दौर के रेंडमाईजेशन की प्रक्रिया...

लोकसभा चुनाव की तैयारियों को लेकर समीक्षा बैठक आयोजित

हरिद्वार। एसएसपी प्रमेन्द्र डोबाल की अध्यक्षता में पुलिस लाइन रोशनाबाद स्थित सम्मेलन कक्ष में आज आगामी लोकसभा चुनाव की तैयारियों को लेकर समीक्षा बैठक...

Recent Comments