Friday, June 21, 2024
Home उत्तराखंड एनसीसी कैडेट्स को यूथ रेडक्रास ने दिया आपदा प्रबंधन का प्रशिक्षण

एनसीसी कैडेट्स को यूथ रेडक्रास ने दिया आपदा प्रबंधन का प्रशिक्षण

देहरादून। यूथ रेडक्रास कमेटी के चेयरमैन व मास्टर ट्रेनर डिजास्टर मैनेजमेंट अनिल वर्मा ने कहा कि आपदा प्रबंधन उत्तराखंड का सर्वाधिक संवेदनशील विषय है। अतः प्रदेश के एन०सी०सी० के छात्र-छात्रा कैडेट्स आपदा प्रबंधन का प्रशिक्षण अवश्य प्राप्त करें। श्री वर्मा ने रेडक्रास की स्टेट डिजास्टर रिस्पांस टीम सदस्या मेजर प्रेमलता वर्मा के सहयोग से एन सी सी की 11-यू० के० गर्ल्स बटालियन के दून यूनिवर्सिटी में आयोजित दस दिवसीय संयुक्त वार्षिक प्रशिक्षण शिविर के दौरान 577 छात्रा कैडेट्स , एसोसिएट एन सी सी ऑफीसर्स, तथा पी आई स्टाफ तथा जीसीआई को आपदा प्रबंधन प्रशिक्षणके तहत ष्इमरजेंसी मेथड्स ऑफ रेस्क्यूष् , फर्स्ट एड ट्रेनिंग तथा स्वास्थ्य जागरूकता आदि का सैद्धांतिक एवं व्यावहारिक प्रशिक्षण प्रदान कर रहे थे।
उन्होंने कहा कि समस्त उत्तराखंड राज्य भूकंप , भूस्खलन , त्वरित बाढ़ , बादल फटने ,वनाग्नि आदि विभिन्न प्रकार की आपदाओं के प्रति अत्यधिक संवेदनशील है। आपदा प्रबंधन केवल सरकारी दायित्व नहीं है , आपदाओं के नियंत्रण में आम जनता का सहयोग भी बेहद जरूरी है। विशेषकर एन सी सी कैडेट्स जैसे अनुशासित, शिक्षित एवं साहसी युवाओं को यदि आपदा प्रबंधन का समुचित प्रशिक्षण अनिवार्य रूप से प्रदान किया जाये तो ऐसे प्रशिक्षित युवाओं की बड़ी संख्या आपदा नियंत्रण में बहुत ही कारगर साबित होगी। विशेष प्रशिक्षण के अंतर्गत घायलों को आपदा के दौरान सुरक्षित निकाल कर ले जाने के इमरजेंसी मेथड्स ऑफ रेस्क्यू के फ्री हैंड्स तरीकों में ह्यूमन क्रेडल, ह्यूमन क्रच, फायरमैंस लिफ्ट, क्लाॅथ लिफ्ट , फोर एंड आफ्ट मेथड, पिक-अबैक, रिवर्स पिक-अबैक, टो-ड्रेग, टू हैंडेड-थ्री हैंडेड-फोर हैंडेड सीट तथा रोप रेस्क्यू प्रशिक्षण के तहत रस्सियों के माध्यम से क्लब्ड हैंड्स, बो-लाईन ड्रेग रेस्क्यूज, ड्रा- हिच रेस्क्यू , चेयर नाॅट रेस्क्यू तथा इंप्रोवाइज्ड स्ट्रेचर आदि का व्यावहारिक प्रशिक्षण प्रदान किया। फर्स्ट एड ट्रेनिंग के अंतर्गत हार्ट अटैक से मरीज के बचाव हेतु सी०पी०आर० (कार्डियो पल्मोनरी रिससिटेशन) का विधिवत् व्यावहारिक प्रशिक्षण प्रदान किया गया। इसके साथ ही स्वास्थ्य जागरूकता हेतु के तहत डेंगू फीवर से बचाव, नशामुक्त उत्तराखंड अभियान, रक्तदान-जीवनदान अभियान के तहत रक्तदान करने से रक्तदाता को होने वाले अनेक फायदों, गंभीर रक्तरोग थैलीसीमिया मुक्त भारत बनाने हेतु जन्म कुण्डली नहीं रक्त कुण्डली मिलान करने के बाद ही विवाह करें अभियान में विस्तृत सैद्धांतिक जानकारी प्रदान की।

RELATED ARTICLES

अधिकारी 100 दिनों के भीतर नेट बैंकिंग की दिशा में आगे बढ़ेः सहकारिता मंत्री

देहरादून। सहकारिता मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने कहा है कि राज्य के सभी जिला सहकारी बैंक अधिकारी अगले 100 दिनों के भीतर नेट...

राज्यपाल ने काकड़ीघाट स्थित ज्ञान वृक्ष (पीपल) में जलाभिषेक किया व ध्यान भी लगाया

नैनीताल/अल्मोड़ा। राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह(से नि) ने अल्मोड़ा के काकड़ीघाट स्थित ज्ञान वृक्ष (पीपल) में जलाभिषेक किया तथा ध्यान कक्ष में ध्यान भी...

निर्माण कार्यों में गुणवत्ता के साथ समझौता नहीं किया जाएगाः मंत्री सतपाल महाराज

हरिद्वार। जनपद प्रभारी मंत्री सतपाल महाराज की अध्यक्षता में सीसीआर सभागार में जिला योजना समिति की बैठक आयोजित की गई। समिति द्वारा जिला योजना...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

अधिकारी 100 दिनों के भीतर नेट बैंकिंग की दिशा में आगे बढ़ेः सहकारिता मंत्री

देहरादून। सहकारिता मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने कहा है कि राज्य के सभी जिला सहकारी बैंक अधिकारी अगले 100 दिनों के भीतर नेट...

राज्यपाल ने काकड़ीघाट स्थित ज्ञान वृक्ष (पीपल) में जलाभिषेक किया व ध्यान भी लगाया

नैनीताल/अल्मोड़ा। राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह(से नि) ने अल्मोड़ा के काकड़ीघाट स्थित ज्ञान वृक्ष (पीपल) में जलाभिषेक किया तथा ध्यान कक्ष में ध्यान भी...

निर्माण कार्यों में गुणवत्ता के साथ समझौता नहीं किया जाएगाः मंत्री सतपाल महाराज

हरिद्वार। जनपद प्रभारी मंत्री सतपाल महाराज की अध्यक्षता में सीसीआर सभागार में जिला योजना समिति की बैठक आयोजित की गई। समिति द्वारा जिला योजना...

डीएम की अध्यक्षता में हुई राजकीय जिला चिकित्सालय प्रबन्धन समिति की बैठक

देहरादून। जिलाधिकारी सोनिका की अध्यक्षता में जिलाधिकारी कैम्प कार्यालय में राजकीय जिला चिकित्सालय प्रबन्धन समिति, राजकीय सेन्ट मैरीज चिकित्सालय मसूरी, राजकीय संयुक्त चिकित्सालय प्रेमनगर...

Recent Comments