Friday, February 23, 2024
Home उत्तराखंड एसजेवीएन ने सबसे बड़े एकल भूमि रजिस्ट्रेशन में से एक को निष्पादित...

एसजेवीएन ने सबसे बड़े एकल भूमि रजिस्ट्रेशन में से एक को निष्पादित किया

देहरादून। नन्द लाल शर्मा, अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक, एसजेवीएन ने बताया कि एसजेवीएन ने अपनी नवीकरणीय अधीनस्थ कंपनी एसजेवीएन ग्रीन एनर्जी लिमिटेड के माध्यम से बीकानेर में अपनी 1000 मेगावाट की बीकानेर सौर ऊर्जा परियोजना के निष्पादनार्थ लगभग 2043 एकड़ भूमि की सबसे बड़ी एकल रजिस्ट्रियों में से एक को निष्पादित किया है।
नन्द लाल शर्मा ने अवगत कराया कि इससे पहले मई 2022 में, एसजेवीएन ने मेसर्स टाटा पावर सोलर सिस्टम्स लिमिटेड को 1000 मेगावाट बीकानेर सौर ऊर्जा परियोजना के लिए भारत का सबसे बड़ा ईपीसी अनुबंध 5491 करोड़ रुपए के कुल मूल्य पर अवार्ड किया था। यह परियोजना भारत में 5000 मेगावाट की ग्रिड से जुड़ी सौर पीवी परियोजनाओं की स्थापना के लिए चरण (सरकारी निर्माता योजना) के तहत सीपीएसयू योजना का एक भाग है। एसजेवीएन को प्रतिस्पर्धी वीजीएफ आधारित बोली प्रक्रिया के माध्यम से 1000 मेगावाट क्षमता की परियोजना आबंटित की गई है। परियोजना जनवरी, 2024 में कमीशनिंग के लिए निर्धारित है। यह प्रगति परियोजना के तीव्र कार्यान्वयन में सहायक होगी। नन्द लाल शर्मा ने आगे कहा कि 1000 मेगावाट सौर पीवी विद्युत परियोजना की स्थापना से 28 प्रतिशत के सीयूएफ के साथ 2454.55 मि.यू. का विद्युत उत्पादन होगा और इस परियोजना से उत्पादित विद्युत पूर्णतरू अपने उपयोग या सरकारी उपयोग अथवा सरकारी संस्थाओं द्वारा उपयोग के लिए होगी।
इसका उपयोग प्रत्यक्ष अथवा डिस्कॉम के माध्यम से पारस्परिक रूप से सहमत टैरिफ के भुगतान पर होगा जो 2.45 रूपए प्रति यूनिट से अधिक नहीं होगा। एसजेवीएन ने भारत सरकार द्वारा निर्धारित लक्ष्य के अनुरूप वर्ष 2023 तक 5000 मेगावाट, 2030 तक 25000 मेगावाट तथा वर्ष 2040 तक 50000 मेगावाट स्थापित क्षमता के साथ अपने लक्ष्यों को निर्धारित किया है। वर्ष 2030 तक 25000 मेगावाट की स्थापित क्षमता को मुख्यतरू हरित ऊर्जा संसाधनों जैसे सौर, हाइड्रो और पवन आदि से प्राप्त किया जाएगा। यह राष्ट्र को अपनी गैर-जीवाश्म ईंधन-आधारित ऊर्जा के विस्तार और अर्थव्यवस्था के डीकार्बाेनाइजेशन के लिए सशक्त बनाने की हमारी प्रतिबद्धता को दर्शाता है।

RELATED ARTICLES

श्रीदेव सुमन उत्तराखण्ड विश्वविद्यालय का चतुर्थ दीक्षान्त समारोह में राज्यपाल ने प्रदान की उपाधि

देहरादून। श्रीदेव सुमन उत्तराखण्ड विश्वविद्यालय का चतुर्थ दीक्षान्त समारोह 2024 विश्वविद्यालय के पंडित ललित मोहन शर्मा परिसर में आयोजित किया गया। चतुर्थ दीक्षांत समारोह...

राष्ट्रीय एकता यात्रा’’ पर आए टेंग्नौपाल, मणिपुर के छात्र-छात्राओं ने राज्यपाल से की भेंट

देहरादून। राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (से नि) से राजभवन में ‘‘राष्ट्रीय एकता यात्रा’’ पर आए टेंग्नौपाल, मणिपुर के छात्र-छात्राओं ने भेंट की। ‘‘ऑपरेशन...

सूबे के मेधावी छात्र-छात्राओं की माताएं होंगी सम्मानित

देहरादून। उत्तराखंड विद्यालयी शिक्षा परिषद की 10वीं एवं 12वीं बोर्ड परीक्षा में सर्वोच्च अंक प्राप्त करने वाले लगभग 15 हजार मेधावी छात्र-छात्राओं की माताओं...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

श्रीदेव सुमन उत्तराखण्ड विश्वविद्यालय का चतुर्थ दीक्षान्त समारोह में राज्यपाल ने प्रदान की उपाधि

देहरादून। श्रीदेव सुमन उत्तराखण्ड विश्वविद्यालय का चतुर्थ दीक्षान्त समारोह 2024 विश्वविद्यालय के पंडित ललित मोहन शर्मा परिसर में आयोजित किया गया। चतुर्थ दीक्षांत समारोह...

राष्ट्रीय एकता यात्रा’’ पर आए टेंग्नौपाल, मणिपुर के छात्र-छात्राओं ने राज्यपाल से की भेंट

देहरादून। राज्यपाल लेफ्टिनेंट जनरल गुरमीत सिंह (से नि) से राजभवन में ‘‘राष्ट्रीय एकता यात्रा’’ पर आए टेंग्नौपाल, मणिपुर के छात्र-छात्राओं ने भेंट की। ‘‘ऑपरेशन...

सूबे के मेधावी छात्र-छात्राओं की माताएं होंगी सम्मानित

देहरादून। उत्तराखंड विद्यालयी शिक्षा परिषद की 10वीं एवं 12वीं बोर्ड परीक्षा में सर्वोच्च अंक प्राप्त करने वाले लगभग 15 हजार मेधावी छात्र-छात्राओं की माताओं...

राज्य में एयर कनेक्टिविटी मजबूत करने को एलाइन्स एयर के साथ जल्द होगा एमओयू

देहरादून। मुख्य सचिव राधा रतूड़ी ने बुधवार को सचिवालय में नागरिक उड्डयन विभाग तथा एलाइन्स एयर के साथ राज्य में एयर कनेक्टिविटी को मजबूत...

Recent Comments