Tuesday, May 28, 2024
Home उत्तराखंड देह व्यापार के लिए बिहार से लाई गई चार महिलाओं को पुलिस...

देह व्यापार के लिए बिहार से लाई गई चार महिलाओं को पुलिस ने मुक्त कराया

हरिद्वार। देह व्यापार में धकेलने के लिए लाई गई बिहार की चार महिलाओं को एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट (एएचटीयू) और हरिद्वार की रानीपुर पुलिस की टीम ने रेस्क्यू किया है। महिलाएं बिहार से दिल्ली आई थीं और वहां से उन्हें सिडकुल में नौकरी दिलाने के लिए हरिद्वार भेजा गया था। पुलिस ने मौके से एक महिला और उसके पति को गिरफ्तार किया है। आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उन्हें न्यायालय में पेश किया गया है। पुलिस अधीक्षक नगर स्वतंत्र कुमार सिंह ने बताया कि महिलाओं को पता चलने पर उन्होंने पड़ोसियों से मदद की गुहार लगाई थी। डायल 112 के माध्यम से रानीपुर पुलिस और एएचटीयू की टीम को किसी ने सूचना दी थी कि उनके बराबर में रहने वाली एक महिला ने बिहार की चार महिलाओं को नौकरी दिलाने के नाम पर यहां बुलाया है।
वह उनसे देह व्यापार कराना चाहती है। सूचना मिलते ही गैस प्लांट चैकी प्रभारी अशोक सिरसवाल, आरक्षी रवि चैहान और महिला उप निरीक्षक ज्योति नेगी के साथ मौके पर पहुंचे। यहां आस मोहम्मद उर्फ राजू कुरैशी निवासी दादूपुर, गोविंदपुर के मकान में छापा मारा। मकान में रवि कुमार निवासी गांव न्यू पटेल नगर मैदा मिल खलासी लाइन फाटक थाना कुतुबशेर जिला सहारनपुर और उसकी पत्नी सिमरन मिले। पुलिस को देखकर मकान के अंदर मौजूद चार महिलाएं बाहर बरामदे में आ गईं। महिलाओं के पास दो बच्चे भी थे। उन्होंने पुलिस को बताया कि रवि और सिमरन उन्हें जबरदस्ती देह व्यापार में धकेलना चाह रहे थे। उन्होंने पड़ोसियों की मदद से पुलिस को बुलाया था। पुलिस ने महिलाओं की शिकायत पर आरोपी रवि और सिमरन को गिरफ्तार कर लिया। रेस्क्यू की गई एक महिला ने बताया कि वह दिल्ली में लाजपत नगर में किराये पर रह रही थी। पड़ोस में ही रहने वाली महिला ने सिडकुल की फैक्टरी में काम दिलवाने के नाम पर 20 अगस्त को रजनी उर्फ सिमरन से बात करवाई थी।
इसके बाद वह उसे 21 अगस्त को हरिद्वार लेकर आई थी और उसे रजनी के यहां पर छोड़कर चली गई। वह 24 अगस्त को हरिद्वार पहुंचे थे। रजनी ने उन्हें तब से एक कमरे में बंद करके रखा हुआ था। तब से यहां पर रोजाना नए-नए लोग आकर उन्हें देख रहे थे। शनिवार की शाम को सिमरन ने कहा था कि आज दो लोग आएंगे और उन्हें नौकरी पर लेकर जाएंगे। पुलिस को मौके पर मिले मोबाइल में रेस्क्यू की गई महिलाओं के फोटो और व्हाट्सएप चैट भी मिली है। इससे उन्हें देह व्यापार के धंधे में धकेलने का खुलासा हुआ है। आरोपियों ने महिलाओं के आने के बाद उनके फोटो मोबाइल में खींचकर कुछ लोगों को व्हाट्सएप भी किए थे।

RELATED ARTICLES

डीएम ने ली मतगणना तैयारियों की समीक्षा बैठक

देहरादून। जिलाधिकारी व जिला निर्वाचन अधिकारी सोनिका ने ऋषिपर्णा सभागार कलेक्टेªट में मतगणना तैयारियों की समीक्षा बैठक लेते हुए सम्बन्धित नोडल अधिकारियों को आवश्यक...

डीएम ने यमुनोत्री यात्रा मार्ग के विभिन्न पड़ावों का निरीक्षण किया

उत्तरकाशी। जिलाधिकारी डॉ. मेहरबान सिंह बिष्ट यात्रा व्यवस्थाओं को चाक-चैबंद बनाये रखने के लिए आज लगातार तीसरे दिन भी यमुनोत्री यात्रा मार्ग के विभिन्न...

अवैध बस्तियों पर बुलडोजर चलना शुरू

देहरादून। प्रदेश की राजधानी दून में अवैध बस्तियों पर अतिक्रमण करके बनाई गई अवैध कॉलोनियों पर सोमवार से बुलडोजर चलना शुरू हो गया है।...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

डीएम ने ली मतगणना तैयारियों की समीक्षा बैठक

देहरादून। जिलाधिकारी व जिला निर्वाचन अधिकारी सोनिका ने ऋषिपर्णा सभागार कलेक्टेªट में मतगणना तैयारियों की समीक्षा बैठक लेते हुए सम्बन्धित नोडल अधिकारियों को आवश्यक...

डीएम ने यमुनोत्री यात्रा मार्ग के विभिन्न पड़ावों का निरीक्षण किया

उत्तरकाशी। जिलाधिकारी डॉ. मेहरबान सिंह बिष्ट यात्रा व्यवस्थाओं को चाक-चैबंद बनाये रखने के लिए आज लगातार तीसरे दिन भी यमुनोत्री यात्रा मार्ग के विभिन्न...

अवैध बस्तियों पर बुलडोजर चलना शुरू

देहरादून। प्रदेश की राजधानी दून में अवैध बस्तियों पर अतिक्रमण करके बनाई गई अवैध कॉलोनियों पर सोमवार से बुलडोजर चलना शुरू हो गया है।...

कार ने ई रिक्शा को मारी टक्कर, 5 लोग गंभीर रूप से घायल

ऋषिकेश। एम्स के निकट एक कार और ई रिक्शा के बीच जबरदस्त भिड़ंत हो गई। इस दुर्घटना में रिक्शा सवार एक महिला सहित पांच...

Recent Comments