Saturday, February 24, 2024
Home उत्तराखंड बच्चों के साथ मनाया भूमि पेडणेकर ने पर्यावरण दिवस का जश्न

बच्चों के साथ मनाया भूमि पेडणेकर ने पर्यावरण दिवस का जश्न

नैनीताल। एक अभिनेत्री के तौर पर बेहद कम समय में लोगों के दिलों में जगह बनानेवाली अभिनेत्री भूमि पेडणेकर ने इस बार विश्व पर्यावरण दिवस का जश्न ज़रा अलग अंदाज़ में मनाया। राष्ट्रीय स्तर पर पर्यावरण के संरक्षण व संवर्द्धन के लिए हमेशा अपनी आवाज़ बुलंद करनेवाली भूमि पेडणेकर ने पर्यावरण बचाने से संबंधित क्लाइमेट वॉरियर नामक अभियान के माध्यम से लोगों को जागरुक बनाने का निश्चय किया है। पिछले कुछ सालों से क्लाइमेट वॉरियर के ज़रिए वो लगातार पर्यावरण संरक्षण व संवर्द्धन के लिए देशभर के लोगों को एकजुट करने में जुटी हुईं हैं।
भूमि पेडणेकर इन दिनों अपने सह-अभिनेता अर्जुन कपूर के साथ नैनीताल में अपनी आगामी फ़िल्म लेडी ऐंड द लेडी किलर की शूटिंग में व्यस्त हैं. मगर विश्व पर्यावरण दिवस के मौके पर भूमि पेडणेकर और अर्जुन कपूर ने मिलकर एसओएस चिल्ड्रेन्स विलेज ऑफ़ इंडिया के बच्चों के साथ विशेष रूप से आयोजित पौधारोपण अभियान में हिस्सा लिया। प्रकृति से प्रेम करते हुए प्राकृतिक ढंग से जीवन जीने की वकालत करनेवाली भूमि पेडणेकर ने इस ख़ास मौके पर कहा कि मौजूदा समय में जलवायु परिवर्तन एक बहुत बड़ी वास्तविकता है जिसे कतई नकारा नहीं जा सकता है। हमारे उठाए जानेवाले हरेक क़दम का प्रकृति पर कोई ना कोई प्रभाव ज़रूर पड़ता है। प्रकृति के साथ तालमेल बना कर जीवन जीने की सीख बच्चों को बचपन से ही देनी चाहिए। भूमि पेडणेकर ने पर्यावरण को लेकर अपनी चिंता ज़ाहिर करते हुए आगे कहा कि एक बार इस्तेमाल में आनेवाले प्लास्टिक का त्याग, सूखे और गीले कचरे में फ़र्क़ करना और जल संवर्द्धन करना आज की बहुत बड़ी आवश्यकताएं हैं और इनसे जुड़ा हर छोटा क़दम भी दीर्घकालीन लाभ के लिए बहुत ज़रूरी है। एक उम्दा अभिनेत्री के तौर पर अपनी पहचान कायम करनेवाली भूमि पेडणेकर कहती हैं, ष्हम सभी में सकारात्मक बदलाव लाने की अकूत क्षमता और शक्ति है। हमारे द्वारा उठाया जानेवाले हरेक क़दम इस धरती को बचाने में अहम भूमिका निभा सकता है। मुझे बेहद ख़ुशी है कि मैं इन बच्चों से सीधे तौर पर संवाद स्थापित कर पा रही हूं क्योंकि यही बच्चे तो हमारा और हमारे देश का भविष्य हैं। उल्लेखनीय है कि भूमि पेडणेकर ने इन बच्चों के साथ रंग-बिरंगे गमलों में पौधारोपण किया, जिनपर बच्चों ने अपने हाथों से चित्रकारी की थी. पौधों समेत इन गमलों को बच्चों के स्कूल में एक ख़ुशनुमां याद की तरह संजोकर रखा जाएगा। इस ख़ास मौके पर भूमि पेडणेकर ने तमाम बच्चों से इन पौधों व गमलों को अपना समझकर इनका विशेष ख़्याल रखने की अपील भी की।

RELATED ARTICLES

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने निर्वाचन हेतु की गई तैयारियों को परखा

देहरादून। मुख्य निर्वाचन अधिकारी डॉ0 बीवीआरसी पुरूषोतम ने लोकसभा सामान्य निर्वाचन-2024 के दृष्टिगत टिहरी लोकसभा क्षेत्रान्तर्गत निर्वाचन तैयारियों को लेकर ऋषिपर्णा सभागार कलेक्ट्रेट में...

बर्फबारी के बाद बदरीनाथ का हुआ खूबसूरत नजारा

चमोली। बर्फबारी के बाद बदरीनाथ धाम सफेद चादर ओढ़ ली है। साथ ही बदरीनाथ के आसपास की पहाड़ियां बर्फ से लकदक हो गई है।...

नशे की लत में पड़कर लक्ष्य से भटक रहा युवाः भार्वन

देहरादून। कर्नल राजीव भार्वन ने कहा कि आज का युवा नशे की लत में पडकर अपने लक्ष्य से भटक रहा है। आज कर्नल राजीव भार्वन...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने निर्वाचन हेतु की गई तैयारियों को परखा

देहरादून। मुख्य निर्वाचन अधिकारी डॉ0 बीवीआरसी पुरूषोतम ने लोकसभा सामान्य निर्वाचन-2024 के दृष्टिगत टिहरी लोकसभा क्षेत्रान्तर्गत निर्वाचन तैयारियों को लेकर ऋषिपर्णा सभागार कलेक्ट्रेट में...

बर्फबारी के बाद बदरीनाथ का हुआ खूबसूरत नजारा

चमोली। बर्फबारी के बाद बदरीनाथ धाम सफेद चादर ओढ़ ली है। साथ ही बदरीनाथ के आसपास की पहाड़ियां बर्फ से लकदक हो गई है।...

नशे की लत में पड़कर लक्ष्य से भटक रहा युवाः भार्वन

देहरादून। कर्नल राजीव भार्वन ने कहा कि आज का युवा नशे की लत में पडकर अपने लक्ष्य से भटक रहा है। आज कर्नल राजीव भार्वन...

सैनिक कल्याण मंत्री ने की चमोली में सैनिक स्कूल खोलने की मांग

देहरादून। उत्तराखण्ड के सैनिक कल्याण मंत्री गणेश जोशी ने नई दिल्ली में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात कर सूबे के सीमांत जनपद चमोली...

Recent Comments