Wednesday, April 17, 2024
Home उत्तराखंड ब्रेनली का सर्वेः नई पीढ़ी के युवाओं के लिए करियर सबसे बड़ी...

ब्रेनली का सर्वेः नई पीढ़ी के युवाओं के लिए करियर सबसे बड़ी प्राथमिकता

देहरादून। ब्रेनली सर्वे में यह बात सामने आई है कि नई पीढ़ी (जनरेशन जेड) के छात्रों के लिए परीक्षा की तैयारी के दौरान करियर सबसे ज्यादा मायने रखता है। छात्रों और अभिभावकों की दुविधाओं को दूर करने वाले भारत के नंबर ü1 प्लेटफॉर्म, ब्रेनली ने यह समझने के लिए एक ऑनलाइन सर्वेक्षण किया कि कौन सी बात छात्रों को अपनी परीक्षा की तैयारी में अतिरिक्त घंटों तक मेहनत करने के लिए प्रेरित करती है। ब्रेनली ने नई पीढ़ी (जनरेशन जेड) के लगभग 4,000 छात्रों से उनके करियर की उम्मीदों के बारे में जानने के लिए सर्वेक्षण कराया, जिससे पता चला कि वेतन, पद, सामाजिक प्रभाव और इसी तरह की अन्य बातों पर उनके नजरिए में कैसे बदलाव आया है।
नई पीढ़ी (जनरेशन जेड) के छात्रों के लिए करियर सबसे महत्वपूर्ण है, जिसके बाद वेतन, पद, सामाजिक प्रभाव, और बातों का स्थान आता है जबकि उनके माता-पिता के जमाने में ऐसी बात नहीं थी। यह भारत में 5.5 करोड़ से अधिक छात्रों, अभिभावकों और शिक्षकों द्वारा उपयोग किए जाने वाले प्लेटफॉर्म, ब्रेनली द्वारा किए गए एक सर्वेक्षण का सबसे महत्वपूर्ण निष्कर्ष है। दिलचस्प बात यह है कि अमेरिका में 5,000 लोगों के साथ ऐसा ही एक सर्वेक्षण किया गया, जिसमें जनरेशन जेड द्वारा दिए गए जवाब की तुलना पिछली पीढ़ी के लोगों यानी दृ मिलेनियल्स, जेन एक्स, और बूमर्स के जवाब से की गई। जनरेशन जेड के उत्तरदाताओं में से केवल 66.8 प्रतिशत ने “वेतन“ को एक महत्वपूर्ण विकल्प के रूप में चुना। यह उनके माता-पिता की उम्र और उससे अधिक उम्र के लोगों से प्राप्त प्रतिक्रिया से तकरीबन 20 प्रतिशत कम है। जनरेशन जेड के बीच, अमेरिका में कॉलेज के छात्र (51.2 प्रतिशत) वेतन के बारे में सबसे कम चिंतित थे। भारत में किए गए सर्वेक्षण की बात की जाए, तो सर्वेक्षण में शामिल 77.8 प्रतिशत छात्रों ने कहा कि उन्होंने भविष्य के करियर की तैयारी को अधिक महत्व दिया है। भविष्य की नौकरी के बारे में विचार करते हुए, उच्च विद्यालय के 39þ छात्रों ने कहा कि वे अधिक वेतन वाली नौकरियों को महत्व देते हैं, और मध्य विद्यालय के 36.2 प्रतिशत छात्रों ने कहा कि वे अधिक वेतन वाली नौकरियों को प्राथमिकता देते हैं। मध्य विद्यालय के 54.1 प्रतिशत छात्रों ने बताया कि भविष्य में उन्हें दूर रहकर की जाने वाली नौकरी से खुशी मिलेगी। उच्च विद्यालय के 50.8 प्रतिशत छात्रों ने कहा कि वे दूर रहकर नौकरी करना पसंद करेंगे। नौकरी चुनने की बात की जाए, तो सर्वेक्षण में शामिल सभी छात्रों में से 52.8 प्रतिशत ने वेतन को सबसे महत्वपूर्ण कारक माना है।

RELATED ARTICLES

एमडीडीए उपाध्यक्ष ने ली प्राधिकरण की समीक्षा बैठक, दिए कई महत्वपूर्ण निर्देश

देहरादून। एमडीडीए उपाध्यक्ष बंशीधर तिवारी की अध्यक्षता में सोमवार को प्राधिकरण सभागार में एक समीक्षा बैठक आयोजित की गई, जिसमें उपाध्यक्ष श्री तिवारी द्वारा...

तीन साल की बच्ची चोरी, सीसीटीवी फुटेज आया सामने

हरिद्वार। हरकी पैड़ी से लापता संभल (यूपी) की तीन वर्षीय मासूम के मामले में नया मोड़ आ गया है। सीसीटीवी फुटेज में सामने आया...

अंतिम दौर के रेंडमाइजेशन की प्रक्रिया संपन्न

उत्तरकाशी। लोक सभा चुनाव के लिए जिले में मतदान केन्द्रों पर कार्मिकों तथा माईक्रो ऑब्जर्वर्स की तैनाती हेतु अंतिम दौर के रेंडमाईजेशन की प्रक्रिया...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

एमडीडीए उपाध्यक्ष ने ली प्राधिकरण की समीक्षा बैठक, दिए कई महत्वपूर्ण निर्देश

देहरादून। एमडीडीए उपाध्यक्ष बंशीधर तिवारी की अध्यक्षता में सोमवार को प्राधिकरण सभागार में एक समीक्षा बैठक आयोजित की गई, जिसमें उपाध्यक्ष श्री तिवारी द्वारा...

तीन साल की बच्ची चोरी, सीसीटीवी फुटेज आया सामने

हरिद्वार। हरकी पैड़ी से लापता संभल (यूपी) की तीन वर्षीय मासूम के मामले में नया मोड़ आ गया है। सीसीटीवी फुटेज में सामने आया...

अंतिम दौर के रेंडमाइजेशन की प्रक्रिया संपन्न

उत्तरकाशी। लोक सभा चुनाव के लिए जिले में मतदान केन्द्रों पर कार्मिकों तथा माईक्रो ऑब्जर्वर्स की तैनाती हेतु अंतिम दौर के रेंडमाईजेशन की प्रक्रिया...

लोकसभा चुनाव की तैयारियों को लेकर समीक्षा बैठक आयोजित

हरिद्वार। एसएसपी प्रमेन्द्र डोबाल की अध्यक्षता में पुलिस लाइन रोशनाबाद स्थित सम्मेलन कक्ष में आज आगामी लोकसभा चुनाव की तैयारियों को लेकर समीक्षा बैठक...

Recent Comments