Friday, June 21, 2024
Home उत्तराखंड रूम टू रीड इंडिया ने उत्तराखंड में किया पठन कार्यक्रम रीड-ए-थॉन का...

रूम टू रीड इंडिया ने उत्तराखंड में किया पठन कार्यक्रम रीड-ए-थॉन का आयोजन

देहरादून। रूम टू रीड इंडिया ने अपने इंडिया गेट्स रीडिंग फ्लैगशिप रीडिंग कैंपेन के तहत, आज रीड-ए-थॉन कार्यक्रम के आयोजन और संचालन की शुरुआत की है। इस आयोजन का उद्देश्य सभी हितधारकों की बड़ी संख्या में भागीदारी के साथ देश भर के कोने-कोने तक पहुंचना है, जिनमें बच्चे, उनके माता-पिता, समुदाय के लोग, सरकार, अनुदान देने वाले तथा यूनाइटेड स्टेट्स एजेंसी फॉर इंटरनेशनल डेवलपमेंट जैसे बहुपक्षीय सहयोगी और अन्य समर्थक शामिल हैं। रूम टू रीड इंडिया ने इस साल के रीड-ए-थॉन कार्यक्रम के माध्यम से एक नया कीर्तिमान स्थापित करने का महत्वाकांक्षी प्रयास किया है, जिसमें इस संस्थान ने व्यक्तिगत रूप बैठकर पढ़ने की व्यवस्था वाले परिवेश में रिकॉर्ड संख्या में प्रतिभागियों को सम्मिलित करने का लक्ष्य रखा है। देशभर के विभिन्न स्थानों पर प्रतिभागियों के पढ़ने के लिए व्यवस्था की जाएगी, जिनमें 12 राज्य शामिल हैं जहाँ यह संगठन सक्रिय रूप से कार्यरत है।
यह रीड-ए-थॉन कार्यक्रम, विभिन्न भागीदारों को स्कूलों के परिसर, सामुदायिक भवन, सरकारी कार्यालय, अनुदानकर्ताओं के कार्यालय जैसे अलग-अलग स्थानों पर एक साथ आने तथा बच्चों के पढ़ने और सीखने में अपना सहयोग प्रदान करने हेतु संकल्प लेने का अवसर उपलब्ध कराएगा। इस मौके पर पूर्णिमा गर्ग, डिप्टी कंट्री डायरेक्टर, रूम टू रीड, कहती हैं, इस साल का रीडिंग कैंपेन पढ़ाई में बराबरी की थीम पर आधारित है। यह सभी हितधारकों के लिए एक सुनहरा अवसर है कि वे अन्य सभी गतिविधियों को छोड़कर एक साथ आएँ और पहले से निर्धारित समय पर लगातार 30 मिनट के लिए पढ़ें। नया कीर्तिमान बनाने वाले इस कार्यक्रम के जरिए हम अपनी प्रतिबद्धता को दोहराना चाहते हैं और यह सुनिश्चित करना चाहते हैं कि बच्चे हर जगह पढ़ें, सीखें और आगे बढ़ें। रूम टू रीड इंडिया ने इस रीड-ए-थॉन कार्यक्रम के माध्यम से पढ़ने की आदतों को बढ़ावा देने के लिए ज्यादा-से-ज्यादा लोगों को एकजुट करने का लक्ष्य रखा है। इसके अलावा, इस आयोजन के माध्यम से एक ही समय में अलग-अलग साहित्यिक रचनाओं को पढ़ने वाले प्रतिभागियों की संख्या के संदर्भ में आधिकारिक तौर पर एक रिकॉर्ड स्थापित करने की उम्मीद है।

RELATED ARTICLES

मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को दिये सीमांत क्षेत्रवासियों की समस्याओं के त्वरित निराकरण के निर्देश

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने गुरूवार को सांय गुंजी में आयुक्त कुमांऊ, जिलाधिकारी पिथौरागढ़ के साथ सेना, आई.टी.बी.पी. तथा बॉर्डर रोड आर्गेनाइजेशन एवं...

केंद्रीय मंत्री यादव ने किया टिहरी और नरेंद्रनगर वन प्रभागों के वनाग्नि प्रभावित क्षेत्रों का दौरा, विभाग की तैयारियों का जायजा लिया

देहरादून। भारत सरकार के पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री श्री भूपेंद्र यादव आज 20 जून से दो दिवसीय उत्तराखंड दौरे पर हैं। इसी...

स्पीकर ऋतु खंडूड़ी ने शोध को व्यावहारिक अनुप्रयोगों में परिवर्तित करने के महत्व पर जोर दिया

देहरादून। विधानसभा अध्यक्ष ऋतु खण्डूड़ी भूषण ने नेशनल कॉन्फ्रेंस ऑन लिविंग विद नेचर सॉइल, वाटर, और सोसाइटी इन इकोसिस्टम कंजर्वेशन हिमालयन कल्चरल सेंटर, देहरादून...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को दिये सीमांत क्षेत्रवासियों की समस्याओं के त्वरित निराकरण के निर्देश

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने गुरूवार को सांय गुंजी में आयुक्त कुमांऊ, जिलाधिकारी पिथौरागढ़ के साथ सेना, आई.टी.बी.पी. तथा बॉर्डर रोड आर्गेनाइजेशन एवं...

केंद्रीय मंत्री यादव ने किया टिहरी और नरेंद्रनगर वन प्रभागों के वनाग्नि प्रभावित क्षेत्रों का दौरा, विभाग की तैयारियों का जायजा लिया

देहरादून। भारत सरकार के पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री श्री भूपेंद्र यादव आज 20 जून से दो दिवसीय उत्तराखंड दौरे पर हैं। इसी...

स्पीकर ऋतु खंडूड़ी ने शोध को व्यावहारिक अनुप्रयोगों में परिवर्तित करने के महत्व पर जोर दिया

देहरादून। विधानसभा अध्यक्ष ऋतु खण्डूड़ी भूषण ने नेशनल कॉन्फ्रेंस ऑन लिविंग विद नेचर सॉइल, वाटर, और सोसाइटी इन इकोसिस्टम कंजर्वेशन हिमालयन कल्चरल सेंटर, देहरादून...

गोलीकांड के विरोध में चक्का जाम और बाजार बंद

देहरादून। नेहरूग्राम गोलीकांड को लेकर लोगों में भारी आक्रोश है। हत्या के विरोध में गुरुवार को दून बंद का आह्वान किया गया था। लोगों...

Recent Comments