Wednesday, April 17, 2024
Home उत्तराखंड शिक्षा का अधिकार के अंतर्गत प्रवेश के लिए प्रक्रिया 5 अगस्त से...

शिक्षा का अधिकार के अंतर्गत प्रवेश के लिए प्रक्रिया 5 अगस्त से हुई शुरु

देहरादून। शैक्षिक सत्र 2022-23 के लिए 21 अप्रैल को बच्चों के प्रवेश के लिए प्रक्रिया शुरू की गई थी जो कि 20 जुलाई को पूरी हो गई थी। शिक्षा विभाग का अनुमान है कि अभी भी शिक्षा का अधिकार के अंतर्गत आने वाले काफी संख्या में छात्र प्रवेश से वंचित रह गए हैं। इसी के मद्देनजर प्रवेश की प्रक्रिया को 5 अगस्त से दोबारा से शुरू करा दिया गया है
शिक्षा का अधिकार के तहत मुफ्त शिक्षा प्रदान करने के लिए विद्यालयों में प्रवेश लेने के लिए सरकार ने छात्र-छात्राओं को एक अवसर और दिया है। सरकार ने यह अवसर स्कूूलों में निर्धारित कोटे से कम प्रवेश होने के कारण प्रदान किया है। शुक्रवार को दोबारा से शुरू हो रही प्रवेश की यह प्रक्रिया 25 अगस्त तक चलेगी। शिक्षा का अधिकार के तहत सभी सरकारी व गैर सरकारी स्कूलों में आर्थिक व सामाजिक रूप से कमजोर वर्ग के बच्चों को प्री-प्राइमरी से लेकर कक्षा आठ तक मुफ्त शिक्षा प्रदान करने की व्यवस्था की गई है। इसी अधिकार के तहत शैक्षिक सत्र 2022-23 के लिए 21 अप्रैल को बच्चों के प्रवेश के लिए प्रक्रिया शुरू की गई थी जो कि 20 जुलाई को पूरी हो गई थी। प्रक्रिया के समाप्त होने के बाद शिक्षा विभाग को प्राप्त हुए आंकड़ों के मुताबिक प्रदेश के कुल 13 जनपदों में 24 हजार 43 छात्र-छात्राओं ने शिक्षा का अधिकार के तहत प्रवेश के लिए प्रक्रिया को पूरा किया है, जिनमें कुल 12472 बालक व 11571 बालिका शामिल हैं। शिक्षा विभाग का अनुमान है कि अभी भी शिक्षा का अधिकार के अंतर्गत आने वाले काफी संख्या में छात्र-छात्राएं प्रवेश से वंचित रह गए हैं। इसी के मद्देनजर आरटीई के तहत होने वाले प्रवेश की प्रक्रिया को 5 अगस्त से दोबारा से शुरू करा दिया गया है, जिससे प्रदेश के कई हजार वंचित वर्ग के छात्र-छात्राओं को मुफ्त शिक्षा प्राप्त करने का अवसर मिलने की उम्मीद है। मुख्य शिक्षा अधिकारी मुकुल कुमार सती के मुताबिक शिक्षा का अधिकार के तहत प्रवेश से वंचित बच्चों के एडमिशन की प्रक्रिया शुक्रवार से शुरू हो गई है। प्रवेश से वंचित छात्र-छात्राओं को एक अवसर और दिया गया है।
देहरादून जनपद में शिक्षा का अधिकार के तहत 2022-23 सत्र में 8688 छात्र-छात्राओं को पंजीकरण हुआ है, जिसमें 4457 बालक एवं 4231 बालिका हैं।

RELATED ARTICLES

एमडीडीए उपाध्यक्ष ने ली प्राधिकरण की समीक्षा बैठक, दिए कई महत्वपूर्ण निर्देश

देहरादून। एमडीडीए उपाध्यक्ष बंशीधर तिवारी की अध्यक्षता में सोमवार को प्राधिकरण सभागार में एक समीक्षा बैठक आयोजित की गई, जिसमें उपाध्यक्ष श्री तिवारी द्वारा...

तीन साल की बच्ची चोरी, सीसीटीवी फुटेज आया सामने

हरिद्वार। हरकी पैड़ी से लापता संभल (यूपी) की तीन वर्षीय मासूम के मामले में नया मोड़ आ गया है। सीसीटीवी फुटेज में सामने आया...

अंतिम दौर के रेंडमाइजेशन की प्रक्रिया संपन्न

उत्तरकाशी। लोक सभा चुनाव के लिए जिले में मतदान केन्द्रों पर कार्मिकों तथा माईक्रो ऑब्जर्वर्स की तैनाती हेतु अंतिम दौर के रेंडमाईजेशन की प्रक्रिया...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

एमडीडीए उपाध्यक्ष ने ली प्राधिकरण की समीक्षा बैठक, दिए कई महत्वपूर्ण निर्देश

देहरादून। एमडीडीए उपाध्यक्ष बंशीधर तिवारी की अध्यक्षता में सोमवार को प्राधिकरण सभागार में एक समीक्षा बैठक आयोजित की गई, जिसमें उपाध्यक्ष श्री तिवारी द्वारा...

तीन साल की बच्ची चोरी, सीसीटीवी फुटेज आया सामने

हरिद्वार। हरकी पैड़ी से लापता संभल (यूपी) की तीन वर्षीय मासूम के मामले में नया मोड़ आ गया है। सीसीटीवी फुटेज में सामने आया...

अंतिम दौर के रेंडमाइजेशन की प्रक्रिया संपन्न

उत्तरकाशी। लोक सभा चुनाव के लिए जिले में मतदान केन्द्रों पर कार्मिकों तथा माईक्रो ऑब्जर्वर्स की तैनाती हेतु अंतिम दौर के रेंडमाईजेशन की प्रक्रिया...

लोकसभा चुनाव की तैयारियों को लेकर समीक्षा बैठक आयोजित

हरिद्वार। एसएसपी प्रमेन्द्र डोबाल की अध्यक्षता में पुलिस लाइन रोशनाबाद स्थित सम्मेलन कक्ष में आज आगामी लोकसभा चुनाव की तैयारियों को लेकर समीक्षा बैठक...

Recent Comments