Friday, June 21, 2024
Home उत्तराखंड 25 लाख कांवड़िए गंगाजल लेकर अपने गंतव्यों को रवाना हुए

25 लाख कांवड़िए गंगाजल लेकर अपने गंतव्यों को रवाना हुए

हरिद्वार। पंचक खत्म होते ही कांवड़ यात्रा चरम पर पहुंचने लगी है। यात्रा के सातवें दिन 25 लाख कांवड़िए गंगाजल लेकर अपने गंतव्यों को रवाना हुए। यात्रा शुरू होने से लेकर बुधवार तक 73 लाख सात हजार कांवड़िए हरिद्वार से गंगाजल लेकर निकल चुके हैं। बुधवार को हाईवे पर डीजे के साथ सजावटी और लाइटों वाली कांवड़ नजर आई। 24 जुलाई तक ऐसा ही नजारा रहेगा। इसके बाद डाक कांवड़ का रेला उमड़ेगा। कांवड़ों पर लगे डीजे पर भगवान का वेश धारण कर कलाकार नृत्य करते हुए नजर आए। हाईवे पर चैराहों पर जाम भी लगा।
धर्मनगरी में बुधवार सुबह से दोपहर तक बारिश रही। सड़कों पर पानी भरा रहा, लेकिन कांवड़ियों के कदम नहीं ठहरे। भोले के जयकारों के साथ कांवड़िए अपने गंतव्य की ओर बढ़ते गए। कांवड़ पटरी से कतार तो हाईवे पर ग्रुपों में डीजे पर गीतों पर उत्साह का माहौल रहा। कांवड़ यात्रा में तीन चरण होते हैं। पहले दूर-दराज के कांवड़िए छोटी-छोटी कांवड़ों को सजाने के बाद उनमें गंगाजल लेकर अपने गंतव्यों की तरफ प्रस्थान करते हैं। दूसरे चरण में बड़ी कांवड़ चलती है। इसमें ट्रक, कैंटर और ट्रैक्टर-ट्रॉली पर डीजे लगाने के बाद सजावटी और बड़ी कांवड़ लेकर कांवड़िए अपने शिवालयों की तरफ प्रस्थान करते हैं। इन कांवड़ों में डीजे पर भगवान भोलेनाथ के साथ ही राधा-कृष्ण के भजन बजते हैं। भगवान का रूप धारण कर कलाकार नृत्य करते हैं। 16 जुलाई की शाम को चार बजे के बाद पंचक लग गए थे, जो बुधवार को दोपहर 12 बजे के बाद समाप्त हुए। पंचक समाप्त होते ही कांवड़ यात्रा चरम पर पहुंचने लगी। हाईवे पर कांवड़ियों का दबाव दिखा। चैराहों पर जाम लगा। बड़ी कांवड़ के साथ कांवड़िए जत्थों में निकले। कांवड़ यात्रा में अगले पांच दिनों तक धर्मनगरी में भगवा रंग में रंगे शिवभक्तों का सैलाब नजर आएगा। हरकी पैड़ी से लेकर मंदिरों व बाजारों में शिवभक्त कांवड़िए ही केसरियां रंग में रंगे हुए दिखाई दे रहे हैं। कांवड़ यात्रा में कांवड़ियों की बढ़ती भीड़ के साथ ही पुलिस सर्तकता भी बढ़ गई है। हरकी पैड़ी से लेकर अन्य गंगाघाटों और मंदिरों, पार्किंग, बाजारों, होटलों और धर्मशालाओं में डॉग स्क्वायड व बम निरोधक दस्ता पहुंचकर चेकिंग कर रहा है।

RELATED ARTICLES

मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को दिये सीमांत क्षेत्रवासियों की समस्याओं के त्वरित निराकरण के निर्देश

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने गुरूवार को सांय गुंजी में आयुक्त कुमांऊ, जिलाधिकारी पिथौरागढ़ के साथ सेना, आई.टी.बी.पी. तथा बॉर्डर रोड आर्गेनाइजेशन एवं...

केंद्रीय मंत्री यादव ने किया टिहरी और नरेंद्रनगर वन प्रभागों के वनाग्नि प्रभावित क्षेत्रों का दौरा, विभाग की तैयारियों का जायजा लिया

देहरादून। भारत सरकार के पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री श्री भूपेंद्र यादव आज 20 जून से दो दिवसीय उत्तराखंड दौरे पर हैं। इसी...

स्पीकर ऋतु खंडूड़ी ने शोध को व्यावहारिक अनुप्रयोगों में परिवर्तित करने के महत्व पर जोर दिया

देहरादून। विधानसभा अध्यक्ष ऋतु खण्डूड़ी भूषण ने नेशनल कॉन्फ्रेंस ऑन लिविंग विद नेचर सॉइल, वाटर, और सोसाइटी इन इकोसिस्टम कंजर्वेशन हिमालयन कल्चरल सेंटर, देहरादून...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को दिये सीमांत क्षेत्रवासियों की समस्याओं के त्वरित निराकरण के निर्देश

देहरादून। मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने गुरूवार को सांय गुंजी में आयुक्त कुमांऊ, जिलाधिकारी पिथौरागढ़ के साथ सेना, आई.टी.बी.पी. तथा बॉर्डर रोड आर्गेनाइजेशन एवं...

केंद्रीय मंत्री यादव ने किया टिहरी और नरेंद्रनगर वन प्रभागों के वनाग्नि प्रभावित क्षेत्रों का दौरा, विभाग की तैयारियों का जायजा लिया

देहरादून। भारत सरकार के पर्यावरण, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री श्री भूपेंद्र यादव आज 20 जून से दो दिवसीय उत्तराखंड दौरे पर हैं। इसी...

स्पीकर ऋतु खंडूड़ी ने शोध को व्यावहारिक अनुप्रयोगों में परिवर्तित करने के महत्व पर जोर दिया

देहरादून। विधानसभा अध्यक्ष ऋतु खण्डूड़ी भूषण ने नेशनल कॉन्फ्रेंस ऑन लिविंग विद नेचर सॉइल, वाटर, और सोसाइटी इन इकोसिस्टम कंजर्वेशन हिमालयन कल्चरल सेंटर, देहरादून...

गोलीकांड के विरोध में चक्का जाम और बाजार बंद

देहरादून। नेहरूग्राम गोलीकांड को लेकर लोगों में भारी आक्रोश है। हत्या के विरोध में गुरुवार को दून बंद का आह्वान किया गया था। लोगों...

Recent Comments